Thursday, February 22Unit of Monark Industries Ltd

चुनाव हम भाजपा से नहीं इवीएम मशीन से हारे है : त्रिवेदी, हम कांग्रेस के कार्यकर्ता जिम्मेदार और आक्रामक विपक्ष की भूमिका निभायेंगे

बलौदाबाजार। प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस भाजपा से नहीं इवीएम मशीन से हारी है जिसके विरोध में सर्वोच्च न्यायालय के समक्ष पूरे तथ्यों एवं प्रमाणों के साथ पूरी जानकारी भेजी जा रही है ताकि भाजपा यह षड़यंत्र लोकसभा चुनाव में दोबारा दोहरा ना सके। उक्त बाते बलौदाबाजार विधानसभा के कांग्र्रेस के अधिकृत प्रत्याशी रहे शैलेष नितिन त्रिवेदी ने गुरूवार को बलौदाबाजार में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान कही। श्री त्रिवेदी ने कहा कि मैं निर्वाचन व्यय पत्रक प्रस्तुत करने और स्वीकृत होने की अर्थात चुनाव प्रक्रिया पूर्ण होने की प्रतीक्षा कर रहा था। इस बीच लगातार जनता के बीच जा रहा हूं दौरा कर रहा हूं, दुख-सुख में शामिल हो रहा हूं, विभिन्न कार्यक्रमों में जा रहा हूं।

खासकर तिल्दा क्षेत्र में ज्यादा आमंत्रण आये है। स्पष्ट रूप से यह बात उभर कर सामने आ रही है कि हम भाजपा से नहीं ईवीएम मशीन से चुनाव हारे है। बलौदाबाजार में, छत्तीसगढ़ में अनेक चिंहित विधानसभा क्षेत्रों में, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान के विधानसभा चुनावों में लोकतंत्र के साथ खिलवाड़ हुआ है, जनभावनाओं का निरादर हुआ है। इस विषय में माननीय मुख्य न्यायाधीश सर्वोच्च न्यायालय को पूरी जानकारी भेज रहा हूं। सप्रमाण और तथ्यों के साथ भेज रहा हूं ताकि इस साल होने जा रहे लोकसभा चुनावों में भी यह सब दोहराया ना जा सके।
1. विधानसभा क्षेत्र बलौदाबाजार में कुल 306 पोलिंग बूथ आता है जिसके अंतर्गत जिला-बलौदाबाजार भाटापारा में 196 पोलिंग बूथों के अंतर्गत से लगभग 10,800 मतांे से बढ़त मिली।

2. रायपुर जिला के अंतर्गत ब्लाक-तिल्दा, शहर एवं ग्रामीण क्षेत्र में कुल 110 पोलिंग बूथों में भाजपा को 48360 मत प्राप्त हुये इस तरह एक तरफा जनादेश पूरे इतिहास में भाजपा को कभी नही मिला जबकि भाजपा पूरे क्षेत्र में जमीनी स्तर से नदारत थी। निश्चित रूप से बड़ा षड़यंत्र किया गया है। विधानसभा चुनाव हम भाजपा से नहीं ईवीएम मशीन से हारे है।

3. तिल्दा क्षेत्र के परिणाम विगत चार पंचवर्षी में कभी भी भा.ज.पा. के पक्ष में एक तरफा नहीं रहा है या तो भा.ज.पा. को हार मिली है या मामूली अंतर से जीत।

4. वर्तमान चुनावी वर्ष 2023 में तिल्दा ब्लाक कांग्रेस और भाजपा के मतो का अंतर 19,042 तक जाना समझ से परे है।

5. ठीक इसी तरह बलौदाबाजार विधानसभा के रायपुर जिला के अंतर्गत सभी 110 बूथो के अलावा अन्य सभी विधानसभा के परिणाम भी अपेक्षा के विपरित आये है इससे यह स्पष्ट है कि निश्चित रूप से पूरे रायपुर जिले मंे सभी इवीएम मशीनों में छेड़छाड़ की गई है।

6. तिल्दा ब्लाक जिला रायपुर के अंतर्गत आने वाले 110 पोलिंग बूथों के लिए कोहका कालेज तिल्दा-नेवरा में दिनांक 14.11.2023 से 16.11.2023 तक अस्थायी रूप से स्ट्रांग रूम बनाया गया था जिसकी जानकारी सभी दलों के अभ्यर्थियों को नहीं दी गयी थी।

7. बलौदाबाजार कृषि उपज मंडी के स्ट्रांग रूम की सुरक्षा व्यवस्था के संबंध में अवलोकन करने संबंधित जानकारी सभी अभ्यर्थियों को बुलाकर दी गई थी मशीनों को रखने तथा सीलिंग करने एवं स्ट्रांग रूम को खोलने की हर एक गतिविधि की जानकारी दी जाती रही ठीक उसी प्रकार अस्थायी स्ट्रांग रूम तिल्दा के संबंध में दिनांक 14.11.2023 से 16.11.2023 के संबंध में क्यों नही दी गयी।

8. तिल्दा शहर एवं ग्रामीण (रायपुर जिला क्षेत्र) के कोहका कालेज अस्थायी स्ट्रांग रूम तिल्दा-नेवरा से इवीएम मशीनों को मतदान के पश्चात् 18.11.2023 को कोहका कालेज से बलौदाबाजार जिला तक ट्रक द्वारा वापस लाने की भी जानकारी नहीं दी गयी थी।

9. तिल्दा शहर ब्लाक अध्यक्ष श्री देवादास टंडन द्वारा अन्य पॉच कार्यकर्ताओं के साथ उपरोक्त अस्थायी स्ट्रांग रूम का अवलोकन करना चाहा लेकिन उन्हें जाने से रोका गया। रोकने का कारण भला क्या हो सकता?

10. जिलेवार आये परिणामों से यह स्पष्ट होता कि यह जनादेश जनता के द्वारा नहीं बल्कि यह पूरी तरह से सुनियोजित किसी योजना का हिस्सा हो जिलेवार परिणाम जो निकल कर सामने आये है उससे ऐसा प्रतीत होता है कि या तो पूरा जिले में कांग्रेस या किसी जिले में सभी के सभी जगहों पर भाजपा आयी है। जिलेवार किसी एक दल के पक्ष में जनादेश का आना क्या इससे यह स्पष्ट नहीं होता कि जिलेवार ई.वी.एम मशीनों को सुनियोजित तरीके से सेट किया गया हो जो किसी पार्टी या प्रत्याशी को जिताने के लिए किया गया हो।

11. छत्तीसगढ़ राज्य की विधानसभा 2023 के चुनाव परिणामों की अगर हम बात करे तो इसे जिलेवार इस तरह से समझ सकते है-बालोद जिला-में पूरा जिला कांग्रेस जीती, सारंगढ़ जिला-पूरा जिला कांग्रेस, रायगढ़ एवं जांजगीर जिला में भी पूरा जिला कांग्रेस जिती इसी तरह बलौदाबाजार जिले की बात करे तो पूरा जिला कांग्रेस जीती जिसमें सारंगढ़ जिले का बिलाईगढ़ विधानसभा वाला क्षेत्र सहित, कसडोल विधानसभा पूरा एवं भाटापारा विधानसभा पूरा के साथ-साथ बलौदाबाजार विधानसभा का पूरा बलौदाबाजार जिला वाला क्षेत्र से भी कांग्रेस जीती है

(नगरीय निकाय क्षेत्र बलौदाबाजार को छोड़कर) जबकि रायपुर जिला अंतर्गत आने वाला बलौदाबाजार विधानसभा का तिल्दा ब्लॉक के बूथ क्र. 168 से 275 में कांग्रेस को हार मिली है, उसी तरह जिस तरह से रायपुर की सभी चारो विधानसभा की सीट पर और विधानसभा, अभनपुर, विधानसभा आरंग एवं विधानसभा धरसीवा सहित पूरा रायपुर के चारो विधानसभा रायपुर उत्तर, रायपुर पश्चिम, रायपुर दक्षीण एवं रायपुर ग्रामीण सहित पूरे रायपुर जिले पर भाजपा की जीत हुयी है। ठीक उसी तरह सरगुजा के अन्य तीन जिलो में भी भाजपा की जीत हुई है। बेमेतरा जिला और कवर्धा जिला में भी सभी विधानसभा में भाजपा को जीत मिली है।

12. भारत जैसे देश में लोकतंत्र का अपना महत्व है, जिसके अन्तर्गत जनता स्वेच्छा से निर्वाचन में आये हुये किसी भी उम्मीद्वार को मत देकर अपना प्रतिनिधि चुन सकती है। अमेरिका जर्मनी, नीदरलैण्ड, जैसे, सैकड़ो विकसित देशो ने म्टड मशीनों की विश्वसनीयता पर प्रश्न चिन्ह लगाते हुये बैलेट पेपर पर चुनाव कराये जाने पर अधिक भरोसा जताते हुये म्टड पर रोक लगा रखी है। क्योंकि म्टड जैसी अपारदर्शी प्रक्रिया हर पार्टी की संदेह के घेरे में लाती है। मेरा निवेदन सिर्फ इतना है की चुनाव की प्रक्रिया पूरी तरह से पारदर्शी हो और मुझ जैसा, आप जैसा, कोई भी अन्य व्यक्ति प्रत्येक परिस्थिति में इसे प्रमाणित कर सके। प्रत्येक नागरिक को अपने दिये गये वोट सही जगह गिना जायें और प्रमाण योग्य प्रक्रिया से हो। यह भारत के हर एक नागरिक और वोटर के बतौर मेरी भी मांग है।

 श्री टंकराम वर्मा बलौदाबाजार के विधायक निर्वाचित हुए और मंत्री भी बने हैं। बलौदाबाजार क्षेत्र को पहली बार यह अवसर प्राप्त हुआ है। श्री टंकराम वर्मा को विधायक और मंत्री बनने की बधाई है शुभकामनाएं है। बलौदाबाजार क्षेत्र का विकास में निर्बाध गति से हो, यही हमारी भावना है। लोकतंत्र में विपक्ष आवश्यक होता है। हम कांग्रेस के सभी कार्यकर्ता विपक्ष की भूमिका पूरी जिम्मेदारी से निभायेंगे। क्षेत्र की हर मांग को सामने रखेंगे हर समस्या के समाधान के लिए आवाज उठायेंगे।

Author Profile

Naresh Ganshani
Naresh Ganshaniनरेश गनशानी (संपादक-छत्तीसगढ़)
नरेश गनशानी (संपादक-छग) छत्तीसगढ़ एवं बलौदा बाजार-भाटापारा जिले की क्राइम, इंडस्ट्री, संस्कृति आदि की खबरे प्रकाशित करते है।

Leave feedback about this

  • Rating
Choose Image